चिदंबरम ने उठाया PM मोदी की रैलियों पर खर्च होने वाले धन पर सवाल
April 10, 2019 • Rajesh Srivastava

 

 

वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने कहा कि अगर आयकर (आईटी) विभाग की टीम तमिलनाडु के शिवगंगा जिले में और प्रदेश की राजधानी चेन्नई में उनके आवासों की तलाशी लेगी तो वे उसका स्वागत करेंगे। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने श्रंखलाबद्ध ट्वीट के जरिए कहा कि मुझे बताया गया है कि आईटी विभाग शिवगंगा और चेन्नई स्थित मेरे आवास की तलाशी की योजना बना रहा है। तलाशी दल का स्वागत करेंगे।

चिदंबरम ने कहा कि आईटी विभाग को मालूम है कि हमारे पास छिपाने को कुछ नहीं है। वे और उनकी एजेंसियों ने पहले भी हमारे आवासों की तलाशी ली है और उनको कुछ नहीं मिला। चुनाव अभियान को कमजोर करने की मंशा है। कांग्रेस ने पूर्व मंत्री के बेटे कार्ति चिदंबरम को शिवगंगा लोकसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में उतारा है। अपने ट्वीट में पी. चिदंबरम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों पर खर्च होने वाले धन पर भी सवाल उठाया।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की चुनावी जनसभाओं में हिस्सा लेने वाले लोगों से सुना है कि हर रैली पर कितने करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा, हर रैली में जो पंडाल होता है वह अमीर परिवार की शादी के पंडाल से बेहतर होता है। टेंट में एलईडी स्क्रीन होती हैं। इतनी बड़ी रकम खर्च करने का स्रोत क्या है?