15 अगस्त 1947 की रात से चली आ रही है परंपरा , कानपुर में रात 12 बजे मनाया गया आज़ादी का 73 वां जश्न
August 15, 2019 • RAJESH SRIVASTAVA
 
15 अगस्त 1947 की रात से चली आ रही है परंपरा ,
 
आज़ादी का जश्न पूरे देश में बड़े हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाता है, वही औद्योगिक नगरी कानपुर में आज़ादी के इस पर्व को मनाने की परंपरा कुछ इस तरह से है कि प्रत्येक वर्ष कानपुर में 14 और 15 अगस्त की मध्य रात ठीक 12 बजते ही यहां झण्डा रोहण कर ख़ुशी मनाई जाती है और बड़ी धूम धाम से 15 अगस्त का झंडा फहराया लोग आतिशबाज़ी करते है और मिठाईया बांटते है। इसी परंपरा को बढ़ाते हुए कानपुर के मेस्टन रोड पर लोगो ने एकत्रित होकर आजादी का 73वां जश्न मनाया । लोगो ने रात के ठीक 12 बजे झंडारोहण किया , मिठाईया बांटी और आतिश बाजी के साथ 73 गोले दाग कर आजादी का 73 वां जश्न मनाया। इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया, समारोह में शहर के सभी वर्ग के लोग स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सहित पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री प्रकाश जायसवाल भी शामिल हुए।