5 लाख 30 हज़ार श्रमिको के खाते में धनराशि हस्तांतरित - सुधीर एम बोबडे, श्रमायुक्त उत्तर प्रदेश 
March 25, 2020 • RAJESH SRIVASTAVA

(कोविड महामारी सरकार के सार्थक प्रयास)
 
5 लाख 30 हज़ार श्रमिको के खाते में धनराशि हस्तांतरित - सुधीर एम बोबडे, श्रमायुक्त उत्तर प्रदेश 
 
श्रमायुक्त उत्तर प्रदेश सुधीर एम बोबडे ने कोविद-19 के लॉकडाउन से प्रभावित श्रमिको के संबंध में बताया है राज्य सरकार द्वारा महामारी अधिनियम 1897 की धारा 2 के अधीन अधिकारों का प्रयोग करते हुए कोविड 19 से प्रभावित ऐसे पंजीकृत श्रमिक जिनको आईसोलेट किया जायेगा उनको 28 दिनों का सवेतन अवकाश दिया जाएगा। श्रमायुक्त ने बताया की ऐसे औद्योगिक प्रतिष्ठान जहा पर सरकार द्वारा लॉकडाउन घोषित किया गया है उन स्थानों पर सभी श्रमिको को सवेतन अवकाश घोषित किया जायेगा और सभी श्रमिको को लॉक डाउन के समय का पूरे वेतन का भुगतान मिलेगा। वही ऐसे औद्योगिक प्रतिष्ठान जहां पर दस या दस से अधिक कर्मकार जिनका सेवा नियोजन है, ऐसे प्रतिष्ठानों में कोविड 19 के संक्रमण से निपटने के लिए सरकार के दिशा निर्देशों को प्रदर्शित किया जाएगा और श्रमिको को सामजिक दूरिया बनाने के लिए प्रेरित किया जायेगा।
 
श्रमायुक्त ने बताया कि पूरे प्रदेश में बीयूसीडब्लू बोर्ड के 20 लाख 37 हज़ार श्रमिक पंजीकृत हैं, जिसमें से 8 लाख 64 हज़ार श्रमिको के खाते उपलव्ध है। जिनमे से 5 लाख 30 हज़ार श्रमिको के खाते में धनराशि हस्तांतरित कर दी गई। श्रमायुक्त के अनुसार सरकार द्वारा पंजीकृत श्रमिको को धनराशि का हस्तांतरण भी किया जाएगा। उन्होंने ऐसे सभी श्रमिको जिनके बैंक खाते का विवरण नहीं है उनसे जिला प्रशासन के माध्यम से बैंक का नाम, खाता संख्या के साथ आईएफसी कोड तत्काल भिजवाने के साथ ही सभी श्रमिको से कोविद-19 के सम्बन्ध में सरकार द्वारा जारी किये जा रहे सभी निर्देशों का पालन करने की अपील किया।