जनता कर्फ्यू से होगा कोरोना सुरक्षा
March 21, 2020 • RAJESH SRIVASTAVA

 

जनता कर्फ्यू से होगी कोरोना से सुरक्षा 


कोरोना के वैश्विक खतरे से बचने के लिये देेेश के यशश्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 22 मार्च को जनता से 13 घण्टे का जनता कर्फ्यू रखने की अपील की गयी है। प्रधानमंत्री द्वारा जनता से जनता कर्फ्यू की अपील के पीछे गहरा विज्ञान है। चिकित्सा विज्ञानियों के अनुसार कोरोना वायरस की उम्र करीब 12 घण्टे होती है, इसलिए 13 घण्टे का जनता कर्फ्यू रखने से लोग एक दूसरे से नही मिल सकेंगे। जिसके फलस्वरूप कुछ समय बाद निश्चित ही कोरोना विषाणु जहां हैं वहीं खत्म हो जाएगा और कोरोना से संक्रमण फैलने का खतरा मिनिमाइज हो जाएगा। 


इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने जनता कर्फ्यू की शाम 5 बजे से अपने दरवाजे, खिड़की, बालकनी पर जाकर 5 मिनट तक ताली, घण्टी, थाली आदि बजाकर उन लोगों के प्रति धन्यवाद व्यक्त करने को कहा है,  जो हमारी सेवा सुविधा के लिये आपात स्थितियों में भी बाहर निकलकर काम करते रहते हैं। प्रधानमंत्री जी की इस अपील के पीछे भी बड़ा विज्ञान है, क्योंकि ताली, घंटी आदि बजाने से जो साउंड निकलती है उसकी तरंगे नकारात्मक तरंगों को खत्म करके वातावरण को शुद्ध करने में सक्षम होती है। वही जब सामूहिक रूप से देश बाहर के लोग एक साथ एक ही समय 5 मिनट तक ताली, घण्टी, थाली आदि बजायेंगे तब लयबद्ध ध्वनि की तरंगे घरों की ऊर्जाएं के साथ आसपास की उर्जाओ को भी शुद्ध करने में सक्षम होने के साथ इससे वातावरण की नकारात्मकता भी दूर हटेगी और ऊर्जाओं की यह स्वच्छता वातावरण में सकारात्मकता भी बढ़ाएगी। सकारात्मक ऊर्जाएं लोगों के इम्यून सिस्टम को मजबूत करती है। चिकित्सको के अनुसार जिन लोगो का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है उनको कोरोना वायरस नुकसान नही पहुंचा सकता।