कानपुर में चर्म उद्योग के लिए वर्चुअल ट्रेड फेयर साबित हो रहा वरदान - रूस, पेरू, जापान में सफलता के बाद लॉस वेगास से अच्छे कारोबार की उम्मीद 
August 24, 2020 • RAJESH SRIVASTAVA
कानपुर में चर्म उद्योग के लिए वर्चुअल ट्रेड फेयर साबित हो रहा वरदान - रूस, पेरू, जापान में सफलता के बाद लॉस वेगास से अच्छे कारोबार की उम्मीद 
 
वैश्विक महामारी कोरोना काल में सभी तरह के उद्योग धंधे प्रभावित हुए है। ऐसे में लेदर सिटी ऑफ दी वर्ल्ड के नाम से विश्व में विख्यात औद्योगिक नगरी कानपुर के चर्म उद्योग के लिए कॉउन्सिल फ़ॉर लेदर एक्सपोर्ट द्वारा वर्चुअल ट्रेड फेयर का आयोजन किया गया जिसे कानपुर चर्म उद्योग के  कारोबारियों के लिए काफी लाभकारी माना जा रहा है। 
 
वर्चुअल ट्रेड फेयर की सफलता और जापान सहित अन्य देशो से विदेशी कंपनियों द्वारा कानपुर के लेदर उत्पादों में दिखाई गयी उत्साहवर्धक रूचि से यहां के चर्म उत्पादों का बड़ी तादाद में एक्सपोर्ट आर्डर मिलने की उम्मीद जगी है जिससे उद्योग कारोबारियों में ख़ुशी की लहर है।
 
गौरतलब है कि कानपुर के लेदर उत्पादो का विश्व में अच्छी मांग रही है जबकि वर्तमान में वैश्विक महामारी के चलते लेदर उत्पादों से जुड़े कारोबारियो में निराशा छायी है। वर्चुअल ट्रेड फेयर के माध्यम से लेदर कारोबारियों को जापान से बड़े आर्डर मिलने की राह निकली है। 
 
 
वर्चुअल ट्रेड फेयर को सरकार द्वारा उठाये गए सराहनीय कदम मानते हुए कॉउन्सिल फॉर लेदर एक्सपोर्ट के रीजनल चेयरमैन जावेद इक़बाल ने बताया कि हमने सबसे पहले रूस फिर लेटिन अमेरिका के लीना पेरू में और तीसरा वर्चुअल ट्रेड फेयर जापान में किया है जबकि चौथा ट्रेड फेयर यूएस के लॉस वेगास में करने जा रहे है। सभी वर्चुअल ट्रेड फेयर को कामयाब मानते हुए उन्होंने कहा की कोरोना काल में इंडस्ट्री में आये स्लम से निकालने का यह बेहतर प्रयास है और इससे सेलर और बायर इंडस्ट्री को बहुत फ़ायदा मिलेगा इससे ट्रैवेलिंग पर आने वाले लाखो रुपये के खर्चो की बचत होगी। 

वही लेदर इंडस्ट्री उत्पाद से जुड़े एक्सपर्ट ज़फ़र फ़िरोज़ के अनुसार वैश्विक महामारी के बाद मार्केट में आये स्लम से उभरने के लिए इंटरनेशनल मार्केट में बायर सेलर की वर्चुअल ट्रेड फेयर मीटिंग से लेदर इंडस्ट्री को बहुत फ़ायदा होने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों पेरू, जापान और रूस से हुई वर्चुअल ट्रेड फेयर में कस्टमर्स द्वारा रूचि दिखाई है और उत्पादों के सैंपल मांगे गए है।