कानपुर मेट्रो परियोजना निर्माण कार्य में 9 किलोमीटर लंबे प्रायरिटी कोरिडोर में पहले यू गर्डर का हुआ इरेक्शन
August 13, 2020 • RAJESH SRIVASTAVA

कानपुर मेट्रो परियोजना निर्माण की दिशा में बड़ा कदम – हवन पूजन कर 9 किलोमीटर लंबे प्रायरिटी कोरिडोर में पहले यू गर्डर का हुआ इरेक्शन, प्रबंध निदेशक यूपीएमआरसी और मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश कार्यक्रम में रहे शामिल 
कानपुर नगर में उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (यूपीएमआरसी) मेट्रो परियोजना का सिविल कार्य तेजी से गति ले रहा है। इसी दिशा में एक और कदम बढ़ाते हवन पूजन के बीच 9 किलोमीटर लंबे प्रायरिटी कोरिडोर में पहले यू गर्डर का हुआ इरेक्शन किया गया। 
 
कानपुर मेट्रो प्रोजेक्ट के प्रायोरिटी कॉरिडोर पर पहले यू गर्डर का इरेक्शन आईआईटी कानपुर के पास पिलर नंबर 17 और 18 पर किया गया। परियोजना के लिए काम शुरू करने के बाद से सिर्फ साढ़े आठ माह में गर्डर का निर्माण, कानपुर मेट्रो के निर्माण में एक बड़ा कदम माना जा रहा है। इस दौरान उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी और यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव मौजूद रहे। यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने बताया कि कानपुर मेट्रो परियोजना कार्य के अंतर्गत साढ़े आठ माह में ही पहले यू गर्डर का इरेक्शन किया जा रहा है जो बड़ी उपलब्धि है। 
 
गौरतलब है कि कानपुर मेट्रो के इस प्रायरिटी कॉरिडोर में 15 मई 2020 को निर्माण कार्य शुरू हुआ था और बहुत कम समय में सिविल वर्क ने रफ्तार पकड़ लिया है। यू-गर्डर मेट्रो वायाडक्ट का शीर्ष डेक प्रदान करता है, जिस पर मेट्रो ट्रेनों की आवाजाही के लिए ट्रैक, ट्रैक्शन और सिग्नलिंग प्रणाली रखी जाती है। प्रायोरिटी कॉरिडोर पर लगभग 60% पाइलिंग का काम पूरा हो चुका है और अब तक 1380 पाइल का निर्माण किया जा चुका है।
 
इसके साथ ही, आईआईटी मेट्रो स्टेशन पर 16 डबल टी-गर्डरों का निर्माण भी पूरा किया गया है। प्रायोरिटी कॉरिडोर में 114 पियर्स (पिलर) का निर्माण कार्य भी पूरा कर लिया गया है। वही यू-गर्डर्स, डबल टी-गर्डर्स और पियर-कैप की कास्टिंग के लिए कास्टिंग यार्ड में काम चल रहा है।
 
वही मुख्य सचिव ने मेट्रो कार्य को लेकर कहा कि कानपुर के विकास और जनता के लिए बहुत बड़ा कदम है और हमारा प्रयास है कि निर्धारित समय सीमा में इसे पूरा किया जा सके।