खाद्य तेल फोर्टिफिकेशन कार्यक्रम - अपर मुख्य सचिव डॉ अनीता भटनागर जैन 
November 19, 2019 • RAJESH SRIVASTAVA

खाद्य तेल फोर्टिफिकेशन कार्यक्रम  - अपर मुख्य सचिव डॉ अनीता भटनागर जैन 
 
खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग उत्तर प्रदेश की अपर मुख्य सचिव डॉ अनीता भटनागर जैन ने खाद्य तेल फोर्टिफिकेशन करने वाले खाद्य कारोबारियों के साथ फोर्टीफ़िएड खाद्य तेल की उपयोगिता और जनमानस को सहज तरह से विटामिन ए , डी , और आवश्यक सूक्ष्म तत्वों को खाद्य तेल के साथ उपलब्ध करने सम्बंधित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अथिति औद्योगिक नगरी कानपुर में शिरकत किया।
 
इस दौरान अपर मुख्य सचिव ने बताया कि 18 फरवरी 2019 को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा फोर्टीफाइड खाद्य तेल के उत्पादन सम्बन्ध में पहली कार्यशाला आयोजित की गयी थी, जिसमे पूरे प्रदेश से कारोबारी और व्यवसायी आये थे। इसके बाद सार्थक प्रयास और प्रशिक्षण के चलते उत्तर प्रदेश की फोर्टीफ़िएड खाद्य पदार्थो की उपलब्धता देश में सबसे सर्वाधिक है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 71 प्रतिशत फोर्टिफाइड खाद्य तेल का उत्पादन किया जा रहा है और करीब 5 करोड़ 75 लाख लोगो को फोर्टीफाइड खाद्य पदार्थ उपलब्ध है। इस दौरान अपर मुख्य सचिव ने ऐसे 58 कारोबारियों और व्यवसाइयों को सम्मानित किया जिन्होंने खाद्य तेल की उत्पादन क्षमता का 60 प्रतिशत से अधिक खाद्य तेल का फोर्टिफिकेशन किया है। अपर मुख्य सचिव ने बताया की प्रदेश में इस समय 71 प्रतिशत फोर्टिफाइड खाद्य तेल का उत्पादन हो रहा है। उन्होंने बताया कि फोर्टिफाइड तेल का उपभोग से स्वास्थ्य वर्धक होता है और विटामिन ए , डी और माइक्रो न्यूट्रिएंट्स की कमी की प्रतिपूर्ति करता है।