फैनी चक्रवात (सावधानी / बचाव)
May 2, 2019 • RAJESH SRIVASTAVA

फैनी चक्रवात (सावधानी / बचाव) 

आप सभी न्यूज़ में, अखबारों में, व विभिन्न समाचार माध्यमों के माध्यम से पिछले दिनों से पढ़ रहे हैं कि उड़ीसा के तटवर्ती क्षेत्रों में फैनी चक्रवात बना है। जिसकी वजह से दिनांक 2 / 3 और 4 मई 2019 को फैनी चक्रवात के बनने की वजह से प्रभासित क्षेत्रो में 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं चलने, ओले पड़ने व बारिश तथा वातावरण में आद्रता में वृद्धि होने की संभावना व्यक्त की जा रही है। जिसकी वजह से सामान्य जनजीवन प्रभावित हो सकता है।  
 
तेज हवाओं के चलने से मकानों के टीन शेड उड़ सकते हैं, तेज हवाओं के चलने से रोड किनारे कमजोर पेड़ों के भी गिरने , बिजली के तारों व बिजली के खंभों के भी गिरने , स्पार्किंग, शॉर्ट सर्किट व रोड पर यातायात बाधित होने की संभावना है । ऐसे में सभी लोगो को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए।
 
वही इस समय खेतो में अधिकांशत फसल कटने के लिए खड़ी है, जबकि काफी कुछ कट कर खेतों में बोझ के रूप में पड़ी हुई है। तेज हवा चलेगी तो खेतों में खड़ी फसल व पड़े हुए बोझों के नुकसान होने की संभावना है। ऐसे में खेतों में खड़ी फसल की वैकल्पिक व्यवस्था कर, लेनी चाहिए और खड़ी फसल व पड़े हुए बोझों के नुकसान से बचाने के लिए उनको सुरक्षित स्थान पर रख  देना चाहिए।  
 
सभी लोगो को आने वाले फेनी चक्रवात का समझदारी, सहयोग तथा संयम से काम लेना चाहिए। जिससे आने वाले  चक्रवात का हम लोग सामना कर सके तथा किसी प्रकार का किसी का कोई भी नुकसान ना हो सके।