राष्ट्रीय शर्करा संस्थान प्रदूषण नियंत्रण हेतु स्वक्ष तकनीक विषय पर पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम
January 21, 2020 • RAJESH SRIVASTAVA

राष्ट्रीय शर्करा संस्थान प्रदूषण नियंत्रण हेतु स्वक्ष तकनीक विषय पर पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम - प्रदेश सरकार की राज्य मंत्री उच्च शिक्षा विज्ञान एवं तकनीकी नीलिमा कटियार ने किया कार्यक्रम का शुभारम्भ 
 
कानपुर नगर स्थित राष्ट्रीय शर्करा संस्थान द्वारा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड एवं चीनी मिलो के प्रतिनिधियों के लिए प्रदूषण नियंत्रण हेतु स्वक्ष तकनीक विषय पर पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ प्रदेश सरकार की राज्य मंत्री उच्च शिक्षा विज्ञान एवं तकनीकी नीलिमा कटियार ने किया गया। कार्यक्रम में देश के विभिन्न राज्यों तथा पश्चिम बंगाल , आसाम , गुजरात, उड़ीसा , महाराष्ट्र , कर्नाटक , मध्य प्रदेश , दिल्ली सहित अन्य राज्यों से प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि राज्य और केंद्र सरकार म्युनिसिपल और औद्योगिक प्रदूषण को रोकने के लिए कटिबद्ध है और प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि प्राकृतिक श्रोतो से पानी के दोहन को रोकने के साथ नदियों और अन्य जल श्रोतो को प्रदूषित होने के बचाये। 

नीलिमा कटियार ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि 2015 की अर्थ समिट के बाद भारत के प्रधानमंत्री जी ने सस्टेनेबल ग्रोथ के लिए गोल रखा कि 2030 तक 40 प्रतिशत अपारम्परिक ऊर्जा के श्रोतो को कैसे प्राप्त कर सकते है। राज्य मंत्री ने कहा कि तेजी से बढ़ता प्रदूषण चिंता का विषय है। इसी को लेकर देश भर के शुगर इंडस्ट्री से जुड़े लोग, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के प्रतिनिधि और सम्बंधित विभागों के साथ सरकार की भूमिका और इसके माध्यम से बढ़ते वायु और जल प्रदूषण को नियंत्रित किये जाने के साथ केन शुगर को लेकर देश के नाम को कैसे बढ़ाया जा सकता है इन विषयो पर चर्चा की जायेगी।